प्यार और साजिश - सरोज कसवां

प्यार और साजिश     सरोज कसवां     कहानियाँ     दुःखद     2022-05-25 00:30:42         52120           

प्यार और साजिश

         एक शहर के पास छोटा सा कस्बा था जिसमें लगभग 250 परिवार रहा करते थे ! 
        जिनमे से एक परिवार था जिनमें एक किसान के एक लड़की ओर दो लड़के थे 
लड़की का नाम रिया था पिता अपने तीनों बच्चो को स्कूल भेजते थे  किसान के घर के ही पास में दूसरा परिवार रहता था जिसमें एक लड़का और दो लड़की थी  लड़के का नाम वीर था 
   वीर ओर रिया दोनों ही एक क्लास में पढ़ाई करते थे दोनों में धीरे धीरे दोस्ती हो गई और वो दोनों रोज गांव में ही मिला करते थे 
        ये सब अब स्कूल ओर परिवार में पता 
 चलेने लगा तो घर वालो ने रिया की पढ़ाई बन्द करदी अब वो घर में ही रहा करती थी वीर के घर वालो को भी पता चल गया  पर कभी वीर को घर वालों ने कुछ नहीं कहा अब गांव में दोनों की बाते सब को पता लग गई सब बाते बनाने लगे तो रिया के घर वालो ने सोचो की क्यों न रिया की शादी कर दी जाए !! 
 

        ईधर वीर के घर वालो ने भी वीर के लिए लड़की देख ली और रिश्ता तय कर दिया।  रिया का भी रिश्ता हो गया और शादी भी हो गई लेकिन वीर ओर रिया शादी के बाद भी मिलने से नहीं रुके बहुत समझा लिया घर वालो ने उन दोनों के कानों में जू तक नहीं रेंगी !
      रिया के ससुराल वालों को अब धीरे धीर पता चलने लगा जैसे ही रिया मायके आती तो वो कभी अपने पति से बात नहीं करती थी तो रिया के पति ने इसकी वजह जनानी चाही तो किसी रिश्तेदार से ये सब मालूम हुआ ।
  एक दिन रिया मायके में थी और दूसरे ही दिन उस उसका पति उसे लेने आ गया रिया साथ चली गई वहां जाकर पति ने रिया से कहा कि अब तू अपनी प्रेमी को अपने फोन से बुलाओगी ओर कहोगी की में तुमसे 
 मिलना चाहती हूं आज रात दस बजे तुम आ जाना जब मेरे घर वाले सो जाए तो ओर तुम्हारे प्रेमी को पता नहीं लगना चाहिए कि ये सब मेरे पति ने कहा है तुझसे खने को वरना उससे पहले तुझे जान से मर दुगा ।
        जैसे ही रात के दस बजे रिया के पति ने रिया के फोन से कॉल करवाया ओर आने को कहा अब दो घंटे बाद रिया का प्रेमी वहां पहुंच जाता है  घर की लाइटे सब बन्द है  उसे लगा शायद सिर्फ रिया है जाग रही है सब सो गए है 
     अचानक से रिया के प्रेमी वीर के गले में किसी ने रस्सी डाल दी और उसे वहीं दबोच लिया   रिया के पति ने अपने दो ओर साथियों को बुला रखा था अब वीर को लगभग दो घंटे पीटने के बाद उसे कही ओर ले जाने लगे रिया रोते हुए कहती है छोड़ दो उसे में आज के बाद  कभी नहीं मिलेगी वीर से भगवान के लिए वीर को छोड़ दो लेकिन वीर को दो - तीन लड़के किसी सुनसान जगह पर ले जाते है और वहां पर सब ने खूब शराब पी ओर रात भर वीर को पीटा सुबह तक जब उसकी सांसे रुक गई तो सड़क पर फेंक कर चले जाते है 

   सुबह  ये खबर सब जगह फेल जाती है पुलिस अपनी करवाई में लग जाती है रिया ओर उसके पति व उसके साथियों की गिरफ्तार कर लिया जाता है 





सरोज कसवां

Related Articles

सुकून का एक लम्हा
Kainat fatma
सारी दुनिया मेरे लिए अज़ीयत का एक समुंदर हैं. तुम वाहिद मेरे लिए सुकून का एक लम्हा हो..
11025
Date:
25-05-2022
Time:
00:08
मिलन
Ratan kirtaniya
लड़का :- हल्का - हल्का हो रही बरसात है चाँदनी रात तेरे - मेरे मिलन का पहली रात जवाँ अपना जज्बात
9483
Date:
25-05-2022
Time:
00:26
मंज़िल मिल जाएगी
Sombir Sharma
थोड़ा डूबूँगा थोड़ा टूटँगा लेकिन फिर लौट आऊँगा ए ज़िंदगी तू देख मैं फिर जीत जाऊँगा। एक ना एक दिन मंज़िल मिल जाएगी, ठ
29109
Date:
24-05-2022
Time:
23:40
Please login your account to post comment here!