नवीनतम प्यार-महोब्बत रचनाएँ

कोशिश
Raj Ashok singh
कोशिश ,कर - ए दिल,,, कोशिशों से हारना नहीं । ओहो हु ,,,, किसी का प्यार मिले, तो किस्मत वरना । यहां जाना क्या है। वक्त रहते
44
Date:
01-02-2023
Time:
23:19
गजब
Raj Ashok singh
क्या ? जिस्म जुदाँ होगे । क्या ? रंग जुदाँ होगे । मुहोबत , मे तो हम ,संग- संग .... एक दुजें के संग जुदाँ होगे । हु हु ओहों,,,,,
13080
Date:
01-02-2023
Time:
23:20
फूल तुम्हारा क्या होगा
विकास यादव
शीर्षक - फूल तुम्हारा क्या होगा जो फूल न हुआ उस माली का, वो फूल तुम्हारा क्या होगा? जो भूला दिये पीड़ा नौ निशा की,
1
Date:
01-02-2023
Time:
23:18
तेरी साँसो से
Swami Ganganiya
तेरी सासों से गुजरू हवा बनके तेरे जहन से उतरू में नशा बनके तुझे जब भी किसी चीज की जरूरत हो मैं आऊ हमेशा तेरी जरूरत ब
80396
Date:
01-02-2023
Time:
23:01
पापा
Kakali Mazumder
जिस ने उन्गली पकड़ कर चलना सिखाया जिस के गोदी मैं उठ कर सारा धुनिया घूमा वोही है मेरे पापा जिस हाट को पकड़ कर दुनिय
15
Date:
01-02-2023
Time:
20:06
तेरा हाल भी मेरे जैसा ही बता रही थी
धर्मपाल सावनेर
दूरियां भले हो तेरे मेरे दरमिया दूरियों से भला मुहब्बत को क्या फर्क पड़ेगा दूरियां में हमारा इरादा और हमारी मोहब
30
Date:
01-02-2023
Time:
21:02
परछाई
Vipin Bansal
गीत = ( परछाई ) तू तो थी मेरी परछाई ! दुनियाँ मेरी क्यों है जलाई !! वफ़ा के बदले बेवफ़ाई ! कैसे हो गई तू हरजाई !! तू तो थी म
47
Date:
01-02-2023
Time:
23:46
जिक्र
Raj Ashok singh
हम,भी काश ,पसंद होते उनकी , योहि कोई बेजार शौक नहीं । चन्द पलो, मे ना उ़डने़ घुँआ बन के रहते जेब मे उनकी ,कोई एक आदत ब
27
Date:
01-02-2023
Time:
23:09
में किसी और का हु अब तुम्हारा नहीं
धर्मपाल सावनेर
कहा कहा मेने तुमको पुकारा नही एक लम्हा याद किए बिना गुजारा नहीं हक मूझपर जताना छोड़ दो अब में किसी और का हु अब तु
60
Date:
02-02-2023
Time:
01:27
आंखो को जी भर के रुला दिया
धर्मपाल सावनेर
अपनी आंखो को हमने जी भर के रूला दिया भूलने वालो को हमने कब का भुला दिया ।। धड़क रहा था बोहोत जोरों से दिल ये मेरा ह
78
Date:
02-02-2023
Time:
00:24
आप विशेष
Kakali Mazumder
आप विशेष यह लगभग एक दिन है! अचानक आपको यह अच्छा लगने लगा! लेकिन उस दिन हम किसी को नहीं जानते थे! शायद यहीं से तुम्हा
40
Date:
01-02-2023
Time:
05:16
इस दिल में क्या क्या है
Pagal Sunderpuria
इस दिल में क्या क्या है वो क्यूं जाने..... जिनकी निग़ाह अक्सर जेब पर होती है। ✍️पागल सुन्दरपुरीया 9649617982
15
Date:
31-01-2023
Time:
20:26