Saroj kaswan - सरोज कसवां

Saroj kaswan     सरोज कसवां     कहानियाँ     प्यार-महोब्बत     2022-05-24 23:40:36         258374           

Saroj kaswan

""हाय में सलोनी !! आप अकेले ही जिम करने आते हो 
💐सलोनी ने अपना परिचय देते हुए कहा 
    
""हाय में जगत !! किसी के साथ आने पर एक्सरसाईज कम ओर बाते ज्यादा होती है 
               ""जगत ने कहा 

सलोनी !! 
हा पर ब्रेक के समय में किसी से बात करना अच्छा लगता है  
####ओर ऐसे दोनों की प्रेम कहानी शुरू होती है 
       

Related Articles

मन की पीड़ा - मुझे कुछ कहना था
Poonam Mishra
मुझे कुछ कहना था या कुछ बताना था मन की पीड़ा या शब्दों का कीड़ा मन का भाव या भीतर का घाव दिल में खुशी है कमाल की या म
32609
Date:
24-05-2022
Time:
23:18
जज्बात छोड आया हूँ
Rupesh Singh Lostom
तु खड़की पे नही फिर भी गुलाब फेक आया हूँ ये दिल किस वेशर्मी पे उतर आया है जिधर जाऊ उधर तु ही तु दिखता हैं घर के दरब
2353
Date:
24-05-2022
Time:
22:59
मोहब्बत
मुकेश लोधा
दीवाना मनकर हमको,नया किरदार देते है नई चाहत को रखते है,नया पैगाम देते है। चाहत थी हमारी, उनको पाकर साथ रहने की मुक्
5354
Date:
24-05-2022
Time:
23:45
Please login your account to post comment here!