Writer by Iqrar Ali मोहब्बत शायरी दिल तोड़ - Iqrar Ali (आई क्यों)

Writer by Iqrar Ali मोहब्बत शायरी दिल तोड़     Iqrar Ali (आई क्यों)     शायरी     प्यार-महोब्बत     2022-12-01 15:24:50     मोहब्बत शायरी दिल तोड़ हार्ट टचिंग     283500        5.0/5 (1)    

Writer by Iqrar Ali मोहब्बत शायरी दिल तोड़

हौसला जबानी बीच एक गल सीखी
है,पैसे द कभी अहंकार न करना क्योंकि
जिस ने दि है, वो छिनना भी जनता है। 

Related Articles

लघुकथा- बख्सीस
virendra kumar dewangan
लघुकथा- बख्सीस रामप्रसाद रेल्वे कुली था। वह कुलीगीरी से जितना कमाता था, रोजाना खाने-पीने और बच्चों की पढ़ाई
24945
Date:
01-12-2022
Time:
01:22
मेरी जिन्दगी खाली-खाली
Swami Ganganiya
मेरी जिन्दगी खाली-खाली क्यो लग रही है कोई नही मेरी जिन्दगी में पर तु कही है मेरी जिन्दगी खाली-खाली क्यो लग रही है
9198
Date:
01-12-2022
Time:
03:11
कर्म प्रबल करना होगा
Amit Kumar prasad
चाहे हो पहरे महा प्रबल, जीसे उड़ना है उड़ना होगा! चाहे अंधियारों कि महा समर, उसे अपने अनुकूल करना होगा!! क
6540
Date:
01-12-2022
Time:
12:52
Please login your account to post comment here!
Iqrar Ali (आई क्यों)     rated 5     on 2022-09-03 16:47:25
 Super