Writer by Iqrar Ali मोहब्बत शायरी दिल तोड़ - Iqrar Ali (आई क्यों)

Writer by Iqrar Ali मोहब्बत शायरी दिल तोड़     Iqrar Ali (आई क्यों)     शायरी     प्यार-महोब्बत     2022-12-01 15:53:41     मोहब्बत शायरी दिल तोड़ हार्ट टचिंग     283512        5.0/5 (1)    

Writer by Iqrar Ali मोहब्बत शायरी दिल तोड़

हौसला जबानी बीच एक गल सीखी
है,पैसे द कभी अहंकार न करना क्योंकि
जिस ने दि है, वो छिनना भी जनता है। 

Related Articles

प्रीत हि जग कहाई
Suraj pandit
कमलो सो लागत रंग प्रीत के, हे गहरे रंग छुपाई। जलज शोभे जलनग्म मे , हे प्यारो संसार कहाई । प्रीत छाया कृष्ण के,
3870
Date:
01-12-2022
Time:
15:30
जो जी रहें हे नशे की दुनिया मे
Ajeet
जो जी रहें हे नशे की दुनिया मे वो उजड़ रहे हे अपनों की दुनिया मे/ नशा मत करना दोस्तों रिश्ते बिखर जाते हे खुद की दु
36989
Date:
01-12-2022
Time:
13:37
समानता बनाम मनुष्य
DR ASHWANI PANDEY
बाँट दिया इस धरती को, चाँद सितारों का क्या होगा? नदियों के कुछ नाम रखे,बहती धारों का क्या होगा? शिव की गंगा भी पानी है
8591
Date:
01-12-2022
Time:
14:20
Please login your account to post comment here!
Iqrar Ali (आई क्यों)     rated 5     on 2022-09-03 16:47:25
 Super