मेरे प्यारे कश्मीर को आज हमने भारत में मिलाया है - Shreyansh kumar jain

मेरे प्यारे कश्मीर को आज हमने भारत में मिलाया है     Shreyansh kumar jain     कविताएँ     देश-प्रेम     2021-09-22 11:10:10         7619        
मेरे प्यारे कश्मीर को आज हमने भारत में मिलाया है

भारत माँ की दामन से आज हमने एक दाग मिटाया है,
मेरे प्यारे कश्मीर को आज हमने भारत में मिलाया है,
दुश्मनों से ओर पथ्तर बाजो से माँ को आज हमने आजाद कराया है,
मेरे प्यारे कश्मीर को आज हमने भारत में मिलाया है ।।
बाबा भोले ने भी इस कश्मीर को अपना घर बनाया है,
स्वर्ग से उतार कर पृथ्वी पर देवताओं ने इस कश्मीर को सजाया है,
माँ वैष्णो देवी ने भी इस कश्मीर की धरा अपना दरबार सजाया है,
मेरे प्यारे कश्मीर को आज हमने भारत में मिलाया है ।।
झीलों ने भी इस कश्मीर को स्वर्ग सा निहारा है, 
डल झील ओर वूलर झील के किनारे ने भी चार चाँद कश्मीर के दामन में लगाया है, 
अगस्त्य मुनि ने भी कश्मीर को अपने तप से बनाया है,
मेरे प्यारे कश्मीर को आज हमने भारत में मिलाया है ।
शंकराचार्य ने भी कश्मीर को अपनी शरणस्थली बनाया है,
मुनियों ओर देवताओं ने इस कश्मीर को स्वर्ग सा बनाया है,
370 को हटाकर भारत माँ के मस्तिष्क पर कश्मीर का ताज सजाया है,
मेरे प्यारे कश्मीर को आज हमने भारत में मिलाया है ।

Related Articles

मुझे तुम रोकते क्यों हो....?
मुझे तुम रोकते क्यों हो....?

मुझे तुम रोकते क्यों हो....? मुझे तुम टोकते क्यों हो...? मैं जिद्दी हूं मंजिल पाने को देख कर मुझे चौक ते क्यों हो...?

ईश्वर की देन है प्रकृति
ईश्वर की देन है प्रकृति

ईश्वर की देन है प्रकृति, मानवता के लिए वरदान है, हम सब मिलकर इसकी रक्षा करें, ये हमारी जीवनदान है।

अपने दिल में पनहा दी हमने
अपने दिल में पनहा दी हमने

अपने दिल में पनहा दी हमने, अपनी सांसों में वसा लिया हमने, अपनी आंखों में छिपा लिया हमने।


Please login your account to post comment here!

© 2021 | All rights reserved by Sahity Live® | Powered by DishaLive Group