हमारे देश की दयनीय स्थिती क्यो है? - Shakuntala Sharma

हमारे देश की दयनीय स्थिती क्यो है?     Shakuntala Sharma     कविताएँ     राजनितिक     2021-09-22 11:37:48     # दयनीन स्थिती# युवा बेरोजार# मीडिया# सरकार# दोषी कौन# शोषण भुख#     6525        
हमारे देश की दयनीय स्थिती क्यो है?

बेरोजार युवा अपने हाथो में डिग्री लेकर जब सड़को पर घूमते नजर आते ।है । तब पता चलता है कि आखरी हमारे देश की इतनी दयनीय स्थिति क्यो है ? 
गरीब के बच्चे भुखे सोते और उनकी बहन बेटियों का जब शोषण होता है और इंसाफ के लिने मारे मारे फिरते है। तब पता चलता है हमारे देश की इतनी दयनीय स्थिति क्यो है ?
गरीब के घरो की छत टपकती है। और रात बिताने के लिये सर्दी बारिश गर्मी सहते सड़को पर सोते है तब पता चलता है कि हमारे देश की इतनी दयनीय स्थिति क्यों है?
इन सभी बातों का दोषी कौन . साकार जो योजना बनाकर लागू नही करती या इनके नाम पर बोट लुट कर अपना गल्ला। भरती " ।
या अखबारो और मिडिया जो रबबरे झुठी फैलाकर न्युज इक्कटा करती ।
तब पता चलता है कि हमारे देश की इतनी दयनीय स्थिति क्यो है? 
""""'"""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""""" शकुन्तला शर्मा ॥

Related Articles

ये मेरा हक है
ये मेरा हक है

बड़े प्यार से, मां के गोद में, बैठे बैठे पूछा गीले बिस्तर पर क्यों सोती मुझे सुलाती सूखा तीखा तीखा लात मरता तुझको लग

प्यार की चोट वही महसूस करता है
प्यार की चोट वही महसूस करता है

प्यार की चोट महसूस वो ही करता है,जिसे किसी से सच्चा प्यार होता है,वरना तो लैला-मजनूं पर ये जमाना पत्थर ही मारता है।

जिंदगी
जिंदगी

अगर जिंदगी में कभी भी आगे बड़ना गई तो पीछे वालो को छोड़ दो वरना पछताओगे


Please login your account to post comment here!

© 2021 | All rights reserved by Sahity Live® | Powered by DishaLive Group