तेरे मेरे प्यार के किस्से - धीरेन्द्र पांचाल

तेरे मेरे प्यार के किस्से     धीरेन्द्र पांचाल     गीत     प्यार-महोब्बत     2021-09-26 14:19:54     Ggogle     29944        
तेरे मेरे प्यार के किस्से

                   सुनाने को तड़पे ये दिल ।
                   जताना है कितना मुश्किल ।
                   नजारें शौकिया भी हैं ,
                   सजी है सावन की महफिल। 
              अब तो मुझे भी थोड़ा रहने दो तुम में ।
       तेरे मेरे प्यार के किस्से होंगे बारिश के मौसम में ।
       तेरे मेरे प्यार के किस्से होंगे बारिश के मौसम में ।

       आंखों में पानी आए जब बर्बस याद तुम्हारी ।
       आंखों की बेचैनी है दिल की फितरत पे भारी ।
                   तड़प बिजली की हो जैसे ।
                   तड़पता हूं मैं भी कब से ।
                   बताना क्या कुछ है बाकी ,
                   चलो भींग जाएं हम फिर से ।
        सुध बुध खो जाएंगे इस बारिश के छम छम में ।
       तेरे मेरे प्यार के किस्से होंगे बारिश के मौसम में ।
       तेरे मेरे प्यार के किस्से होंगे बारिश के मौसम में ।

                   फिसल ना जाएं हम खुद से ।
                   वाकिया हो ऐसा तुझसे ।
                   तरन्नुम हौसला देगी ,
                   जुदा हो जाएं हम सबसे ।
          दिल ये मेरा घबराए । तू पास जो मेरे आए ।
       उस बादल की बेचैनी , जो तुझको कह ना पाए ।
          तू सागर की गहराई मै तुझमें डूबा जाऊं ।
          तू कस्तूरी ले भटके मैं तेरा पता लगाऊं ।
              हमको हमीं से बह जाने दो हम में ।
       तेरे मेरे प्यार के किस्से होंगे बारिश के मौसम में ।
       तेरे मेरे प्यार के किस्से होंगे बारिश के मौसम में ।

✍🏻 धीरेन्द्र पांचाल 
    वाराणसी , उत्तर प्रदेश (8853853120)
       
        
         

     

Related Articles

शेरनी - पूँछा घरवाली ने जो मैं बहुत देर से आया
शेरनी - पूँछा घरवाली ने जो मैं बहुत देर से आया

पूँछा घरवाली ने जो मैं बहुत देर से आया मुझे बताओ समय अधिक यह तुमने कहाँ लगाया मेरे मन में अगले पल एक ख़याल उभर आया ज

इच्छा शक्ति
इच्छा शक्ति

शक्ति जब मिले इच्छाओं की, जो चाहें सो प्राप्त कर लें। आवश्यकताएं अनन्त को भी, एक हद तक प्राप्त कर लें। शक्ति जब मिल

भजन-करदे छाया ममता की मैया
भजन-करदे छाया ममता की मैया

करदे छाया ममता की मैया,आये हैं शरण तेरे द्वार पे मैया। छाया अंधेरा इस जीवन में, कर दे उजाला सवेरा ओ मैया। करदे छाया


Please login your account to post comment here!

© 2021 | All rights reserved by Sahity Live® | Powered by DishaLive Group