छोड़ दिया - Poonam Mishra

छोड़ दिया     Poonam Mishra     गीत     समाजिक     2022-12-01 15:00:57     समय के अनुसार खुद को परिवर्तित करना     25202           

छोड़ दिया

समय कुछ ऐसा है कि 
हमने अब कुछ कहना सुनना
 छोड़ दिया 
उन टूटे हुए रिश्तो को 
उन टूटे हुए सपनों को 
अब अपना कहना छोड़ दिया
 जो रिश्ते हमसे रूठ गए
 अब उनको मनाना छोड़ दिया
 बहुत खुश है 
आजकल अपने आप से
 मिलकर हम 
यूं ही हर रिश्ते से मिलना जुलना
 छोड़ दिया 
खुश रहते हैं हर बात पर हम 
अब अपने दिल को रुलाना छोड़
 दिया
 ऐसा लगता है कि 
एक तुम्हारे सिवा 
कोई नहीं है अपना 
अब तुमसे मिलकर 
हर रिश्ते हर 
संबंधों से 
जुड़ना छोड़ दिया

Related Articles

घूंटी पी ली तेरे नाम की
Chanchal chauhan
घूंटी पी ली तेरे नाम की, अब सुध ना रही इस जहान की, सांसों के पन्ने पर तेरा नाम, लगन लगी हैं तेरे धाम की।
8417
Date:
01-12-2022
Time:
15:23
आगमन
Vipin Bansal
आगमन नये साल के आगमन पर आओ कुछ कर दिखलाएं। वक्त बने तारीख़ हमारा। युग बने पहचान।। मौत बने जिंदगी हमारी। जिंद
1
Date:
01-12-2022
Time:
12:19
Writer by iqrar Ali, मोहब्बत शायरी दिल तोड़
Iqrar Ali (आई क्यों)
मैं बेरोजगार नही हूं शाहब, क्योंकि मेरे अपने गमों ने ही मुझे रोजगार बना दिया है।
262098
Date:
01-12-2022
Time:
15:41
Please login your account to post comment here!