Ranjana sharma

Ranjana sharma

Bhubaneswar near-damna high school

View Certificate Send Message
  • Followers:
    5
  • Following:
    2
  • Total Articles:
    275

Recent Articles


जिंदगी हमें मौका देती है
जिंदगी हमें मौका देती है

जिंदगी हमें बहुत म

मदद
मदद

मालिक-मालिक

आगे बढ़ना ही जिन्दगी है भाग -२
आगे बढ़ना ही जिन्दगी है भाग -२

बहुत समय बीत जाती ,द

Kahin Kisi roj
Kahin Kisi roj

Har saam Teri intzaar mai Chokhat pe baith Teri

एक सोच जीवन बदल देती है
एक सोच जीवन बदल देती है

कीर्ति के मां - बाप

नाचीज़
नाचीज़

मुझ जैसे नाचीज़ को

कुछ लोग ऐसे होते हैं
कुछ लोग ऐसे होते हैं

कुछ लोग ऐसे होते है

बदनाम मंजर
बदनाम मंजर

बदनाम मंजर - सी थी ए

रेत की तरह
रेत की तरह

रेत की तरह ए जिंदगी

ज़ख्म खाके भी
ज़ख्म खाके भी

जख्म ख़ाके भी जो मु

न गिला
न गिला

न गिला न शिकवा किसी

दिल पे
दिल पे

दिल पे जितनी ठेस लग

कहानी तो होती है
कहानी तो होती है

कहानी तो होती है कह

अपने
अपने

तुमसे न गिला न शिकव

एक ख्वाब
एक ख्वाब

एक ख्वाब जो मैंने द

फ़िक्र
फ़िक्र

फ़िक्र तुम्हें होत

नाम कमाने की चाहत में
नाम कमाने की चाहत में

नाम कमाने की चाहत म

अपना बनकर
अपना बनकर

अपना बनकर ऐसा लूटा

जिंदगी इतनी बेकार लगने लगी है
जिंदगी इतनी बेकार लगने लगी है

जिंदगी इतनी बेकार

जिंदगी हमें मौका देती है
जिंदगी हमें मौका देती है

जिंदगी हमें बहुत म

दिल की सुनो
दिल की सुनो

लोगों की तुम सुनोग

तुम कहीं न हो
तुम कहीं न हो

मैंने देखा मुड के त

मर्जी
मर्जी

भूलना या न भूलना तु

अच्छा लगता है
अच्छा लगता है

बार - बार वहां सर झु

अक्सर लोगों से सुना है
अक्सर लोगों से सुना है

अक्सर लोगों से सुन

ईश्वर की देन
ईश्वर की देन

हाथों की जो लकीर है

मेरी जिंदगी
मेरी जिंदगी

मेरी मुस्कुराहट की

मैंने अपने दिल में
मैंने अपने दिल में

जाते - जाते तुम्हार

मुजरिम को इंसाफ
मुजरिम को इंसाफ

मुजरिम को इंसाफ बह

बेरहम दिल
बेरहम दिल

तुम्हें तरस ना आई ह

आते ही
आते ही

आपके आते ही यूं लगत

मतलब से मतलब
मतलब से मतलब

जब मतलबी ही बोलने ल

दर्द भी उन्हीं को मिलता है
दर्द भी उन्हीं को मिलता है

दर्द भी उन्हीं को म

धनवान सेठ ( भाग -२)
धनवान सेठ ( भाग -२)

देखते ही देखते वह ध

जिंदगी रेत के समान है
जिंदगी रेत के समान है

कोमल फोन में अपनी म

मिठास
मिठास

मिश्री सी ज्यादा म

तुझसे
तुझसे

दिल बार - बार तुझसे

नमी आई
नमी आई

आंखों में नमी आई जब

अंजान
अंजान

जान के भी अंजान बैठ

नफरत
नफरत

नफरत में इतने न घिर

मां
मां

मां अपने आंचल में स

हर
हर

जिस तरह हर मौसम की अ

तुम्हारा नाम लिखा है
तुम्हारा नाम लिखा है

ज़र्रे - ज़र्रे पर म

कितना भी गहरा क्यों न हो
कितना भी गहरा क्यों न हो

झूठ का रंग कितना भी

कितने मासूम
कितने मासूम

कितने मासूम हो तुम

इच्छाओं से ही
इच्छाओं से ही

इच्छाओं से ही जिंद

माटी का शरीर
माटी का शरीर

क्यों घमंड है तुझे

अंतर
अंतर

फिल्मी दुनियां और

विश्वास
विश्वास

समीरा अपने बैग को स

क्या खुशी है
क्या खुशी है

गुमसुम - सी है मेरी

बिन मतलब
बिन मतलब

पैसों की दुनियां ह

फरियाद
फरियाद

करते करते तुमसे फर

बस तुम्हारा ही
बस तुम्हारा ही

हर जगह हर वक़्त बस त

पहल पहल
पहल पहल

पहल - पहल व्रत रखी ऎ

किस्मत
किस्मत

किस्मत भी कभी - कभी

वे सभी
वे सभी

रिश्तों की डोर से ब

धड़कता है
धड़कता है

धड़कता है दिल देखत

kuchh log hamase kahate hain tum to jaanate ho unhen
kuchh log hamase kahate hain tum to jaanate ho unhen

कुछ लोग हमसे कहते ह

इंतजार
इंतजार

कब तक करूंगी मैं आप

तब और अब
तब और अब

तब और अब की हंसी में

मगरुर
मगरुर

कितने मगरुर हो तुम

तेरी परछाई
तेरी परछाई

तेरी परछाई भी मुझे

रहूं या न रहूं
रहूं या न रहूं

मैं रहूं या न रहूं म

वाह रे दुनियां
वाह रे दुनियां

दूसरों के मरने पर

दृष्टि
दृष्टि

cउनलोगो पर भी डाल लि

किसी पर भरोसा नहीं किया जा सकता
किसी पर भरोसा नहीं किया जा सकता

मीनू एक बड़ी ही चंच

स्ट्रीट लाइट
स्ट्रीट लाइट

एक ड्राइवर प्रतिदि

जुंबा
जुंबा

जुंबा पे कुछ और दिल

तकदीर का खेल
तकदीर का खेल

तकदीर ने मेरा रिश्

दिल
दिल

दिल रो रहा है पर पता

मंजिल
मंजिल

थक ना ओ राही अभी बह

साथ
साथ

तुम साथ हो तो कुछ भी

अनचाहा लगाव
अनचाहा लगाव

छोटे से एक मकान में

माता पूजा
माता पूजा

खड़गपुर का प्रसिद्

क्यों तुझे जिंदगी
क्यों तुझे जिंदगी

क्यों तुझे जिंदगी

किताब
किताब

किताब लिखने बैठी थ

बशर
बशर

ऐ बशर अपनों के पीछे

पा न सकोगे
पा न सकोगे

जिंदगी में ऐसा कुछ

ढोंगी
ढोंगी

ढोंगी होते है वो लो

माफ़ करना
माफ़ करना

माफ़ करना अगर कोई भ

अपने दिल में
अपने दिल में

तुम्हें हमने अपने

इल्तिज़ा
इल्तिज़ा

नजर न लगे तुझे किसी

साजन से सजनी
साजन से सजनी

झूठ बूलिया तूने अप

समय का चक्र
समय का चक्र

समय का चक्र बड़ा ही

खुद को कभी
खुद को कभी

खुद को कभी दूसरों स

बंदे
बंदे

जो खुदा के बंदे होत

छोटी बात
छोटी बात

जरा - जरा सी बात पे ह

कहां जाना था
कहां जाना था

कहां जाना था ,कहां आ

कुछ बात है तुझमें
कुछ बात है तुझमें

कुछ बात है तुझमें ज

सपना
सपना

सपनों में खोई सपना

कहीं किसी रोज
कहीं किसी रोज

हर शाम तेरे इंतजार

कब क्या
कब क्या

कौन जानता है कब क्य

मां की ममता
मां की ममता

एक अमीर घर की लड़की

बार - बार
बार - बार

ओ बीते दिनों की बात

शुक्रिया
शुक्रिया

शुक्रिया अदा करती

जिंदगी से
जिंदगी से

हम जिंदगी से चाहते

लोगों के आंखों में
लोगों के आंखों में

सच बोलती हूं इसलिए

इंतजार
इंतजार

कब तक करूंगी मैं आप

फितरत
फितरत

डरपोक लोगों की फित

जिंदगी लेती है
जिंदगी लेती है

जिंदगी हमें ऐसे ही

आवाज उठाओ
आवाज उठाओ

दीपा और शिखा दो सहे

हिम्मत नहीं हारते
हिम्मत नहीं हारते

मेहनत करने वाले कभ

खूब
खूब

क्या खूब कहा किसी न

बंद दरवाजा
बंद दरवाजा

एक गांव में एक मकान

आ नहीं सकती
आ नहीं सकती

बुढापा आ जाए तो जवा

दिल चाहता नहीं
दिल चाहता नहीं

यूं तो हम महफ़िल मे

रिश्ते
रिश्ते

जिस रिश्ते में प्य

नाम पर
नाम पर

ऐ रिश्ते कई नाम पर

कुछ बात दिल को छू जाती
कुछ बात दिल को छू जाती

एक गांव में छोटे से

जिदंगी इतनी नासूर बन जाएगी
जिदंगी इतनी नासूर बन जाएगी

जिंदगी इतनी नासूर

जिंदगी का भरोसा है क्या
जिंदगी का भरोसा है क्या

जिंदगी का भरोसा है

तिनका तिनका
तिनका तिनका

तिनका - तिनका जोड़ क

आपके इंतजार में
आपके इंतजार में

आपके इंतजार में मे

निभाने का वादा
निभाने का वादा

जिंदगी भर साथ निभा

जी तो हम आज भी रहे हैं
जी तो हम आज भी रहे हैं

जी तो हम आज भी रहे ह

धूप - छांव
धूप - छांव

तुम धूप - छांव बनके

एक पल जो न देखूं तुझ

समझ न सकें
समझ न सकें

नादान था ए दिल कुछ

कैसे
कैसे

दिल में इतना दर्द ह

जाना
जाना

आज तुमने जो हमसे कह

सच और झूठ
सच और झूठ

सच और झूठ बोलने में

खूब है
खूब है

ऐ शाम खूब है ऐ रात ख

कवि
कवि

कवि वो है जो कहीं भी

दिल हार बैठे
दिल हार बैठे

मोहब्बत के जंग में

कुछ किया ही नहीं
कुछ किया ही नहीं

जिंदगी इतनी मगरुर

यह अल्लाह तेरी मर्जी है क्या
यह अल्लाह तेरी मर्जी है क्या

जिससे खौफ था मुझे व

खो गई
खो गई

कहीं खो सी गई हूं मै

कामयाबी
कामयाबी

रेशमा के ऑफिस में उ

कुछ रिश्ते में दूरियां ही अच्छी रहती है
कुछ रिश्ते में दूरियां ही अच्छी रहती है

कुछ रिश्ते में दूर

कभी - कभी
कभी - कभी

कभी - कभी हम जो कह दे

भरोसा
भरोसा

ईश्वर पे भरोसा कर स

हम साथ हो
हम साथ हो

यश और नंदनी की शादी

बेवफा
बेवफा

मुझे पता है तू बेवफ

कहते नहीं
कहते नहीं

यूं तो हम किसी से कु

मोहब्बत में
मोहब्बत में

रेगिस्तान के बालू

आरजू
आरजू

आरज़ू मेरे दिल में

तकलीफ
तकलीफ

कभी - कभी जो दिल करत

नसीब
नसीब

नसीब का लेखा कोई भी

एक हादसा
एक हादसा

जिया एक बहुत ही साध

दिल मेरा
दिल मेरा

दिल मेरा बार - बार र

तारीफ
तारीफ

कितनी चंचल हो तुम अ

बात दिल की
बात दिल की

लब्जों में बयां हम

खूबसूरत
खूबसूरत

भले ही खूबसूरत हो क

हद से ज्यादा
हद से ज्यादा

हद से ज्यादा बुद्ध

बदलो सोच
बदलो सोच

अंजू एक बहुत ही होश

दिल ही था
दिल ही था

दिल का हाल क्या बया

मेरी खामोशी
मेरी खामोशी

मेरी खामोशी तुमसे

नादान था ऎ दिल
नादान था ऎ दिल

नादान था ऎ दिल कुछ

सीख
सीख

धूप और छांव जिंदगी

ढोंगी पंडित
ढोंगी पंडित

एक गांव में एक बहुत

प्यार
प्यार

प्यार वो एहसास है ज

इश्क
इश्क

ऐ कोन - सा डगर है जिस

परिस्थिति
परिस्थिति

परिस्थिति कभी एक स

तेरी बेवफाई
तेरी बेवफाई

तेरी बेवफाई नजर न आ

तहजीब
तहजीब

तहजीब सिखाने वाले

क्या पैसा ही सबकुछ है
क्या पैसा ही सबकुछ है

मैनावती एक हाउसवाइ

बारिश
बारिश

बारिश के बाद मिट्ट

पूछे बेटी सवाल
पूछे बेटी सवाल

एक बेटी ने किया सवा

मुश्किल हो जाती है
मुश्किल हो जाती है

पैरो में कांटा चुभ

अजीब
अजीब

ऐ इंसान भी बड़ा अजी

तुम
तुम

जैसे गए थें तुम मुझ

डर लगता है
डर लगता है

लोगो को सच्चाई से ड

जी करता है तेरा बचपन मैं अपने आंखों में समेट लूं
जी करता है तेरा बचपन मैं अपने आंखों में समेट लूं

जी करता है तेरा बचप

प्रेम के कुछ पल
प्रेम के कुछ पल

हंस और हंसिनी दोनो

ना करो तुम
ना करो तुम

विश्वास न करो तुम

हम
हम

हम तेरे इश्क में ऐस

कोने कोने में
कोने कोने में

मन के कोने कोने में

रिश्ते
रिश्ते

रिश्तों के धागे मे

आ रहे हैं
आ रहे हैं

इश्क न करना ऐसा लोग

साथ है
साथ है

एक टेंशन ही तो है जो

क्यों इतना दर्द मेरे ही हिस्से में
क्यों इतना दर्द मेरे ही हिस्से में

बार - बार एक ही सवाल

हसीं
हसीं

हसीं रात है क्या क

शिकायत न है
शिकायत न है

हमें तुमसे शिकायत

आपके
आपके

आपके नजर में मेरी उ

मिले न होते
मिले न होते

खास हम मिले ही न होत

कशिश
कशिश

अजीब - सी कशिश है,तु

काश मेरा दिल
काश मेरा दिल

काश मेरा दिल भी एक

आदत
आदत

राहुल रोज बेड टी पी

संभाला था मैंने
संभाला था मैंने

संभाला था मैंने बह

हमारे साथ कौन है
हमारे साथ कौन है

वक़्त बुरा हो , हाला

तालीम
तालीम

तालीम तो सीख ली हमन

चांद की चांदनी
चांद की चांदनी

ऐ चांद की चांदनी ऐ

मां शेरावाली
मां शेरावाली

तू है सबसे करुणा वा

नसीब
नसीब

नसीब - नसीब की बात ह

तेरे सिवा
तेरे सिवा

तेरे सिवा कोई न मेर

एक सोच जीवन बदल देती है
एक सोच जीवन बदल देती है

कीर्ति के मां - बाप

जान ले तू
जान ले तू

तू ही जान है मेरी ऐ

इश्क ए इजहार हम क्या करें
इश्क ए इजहार हम क्या करें

इश्क ए इजहार हम क्य

झूठा
झूठा

तू झूठा तेरा प्यार

रिश्ते
रिश्ते

जिस रिश्ते में धोख

आगे बढ़ना ही जिन्दगी है भाग -१
आगे बढ़ना ही जिन्दगी है भाग -१

दीपा की मां दीपा से

न सोचना
न सोचना

तुम्हें छोड़ के हम

खुदा करे
खुदा करे

खुदा करे तुम्हारी

जाना ही था
जाना ही था

जाना ही था मुझे छोड

तूने
तूने

बनके मेरा साथी तून

रक्षाबंधन
रक्षाबंधन

रक्षाबंधन एक ऐसा त

रब के घर
रब के घर

रब के घर देर है पर अ

छुपाए पर छुपता नहीं
छुपाए पर छुपता नहीं

कितना दर्द है तेरी

जीते हैं आजकल
जीते हैं आजकल

तुम्हें देखकर हम ज

तुम्हें याद नहीं
तुम्हें याद नहीं

क्या तुम्हें याद न

नहीं मिला
नहीं मिला

वक़्त से पहले और जर

तुम जो आए
तुम जो आए

तुम जो आए तो बहार आ

संजोया था
संजोया था

संजोया था जिस पल को

चूड़ीवाला
चूड़ीवाला

रागिनी अपनी सहेली

चकाचौंध
चकाचौंध

चकाचौंध से भरी इस द

आम लड़की हूं
आम लड़की हूं

मैं वो आम लड़की हूं

जब कोई कुछ ठान लें
जब कोई कुछ ठान लें

मोहन एक गरीब परिवा

तकलीफ
तकलीफ

दिल की बात दिल में र

मोहब्बत
मोहब्बत

इतनी मोहब्बत न करो

यादें
यादें

' ओ मम्मी ' की जोर से

तर्जुबा
तर्जुबा

तर्जुबा इतनी नहीं

तुलना नहीं
तुलना नहीं

पापा घर की इमारत है,

घमंड
घमंड

रोहणी और अलका दो बह

घमंड
घमंड

रोहणी और अलका दो बह

आप
आप

ख्यालों में आप सपन

धनवान सेठ ( भाग -१)
धनवान सेठ ( भाग -१)

रामपुर गांव में एक

हम जो
हम जो

जरूरी नहीं की हम जो

साथ न छोड़ूंगा
साथ न छोड़ूंगा

नेहा शादी करके अपन

खामोशी
खामोशी

गर्मी की छुट्टी खत

मुलाकात
मुलाकात

हम महफ़िल में यूं आ

उड़ान
उड़ान

जिंदगी में ऊंचे उड

मोहब्बत हमसे
मोहब्बत हमसे

वो मोहब्बत हमसे यू

जिंदगी के गम
जिंदगी के गम

जिंदगी के गम भुलात

हम
हम

जिंदगी जीते -जीते आ

कर्जदार
कर्जदार

एक रहम दिल इंसान ने

अशफाक
अशफाक

इतने अशफाक आज क्यो

कुछ सिखाने के लिए
कुछ सिखाने के लिए

जिंदगी पास बुलाती

सबक
सबक

क्या सबक मिली तुमस

मतलबी
मतलबी

मतलबी सी दुनियां म

मन
मन

मन का क्या है फिरता

बड़े - बड़े वादें
बड़े - बड़े वादें

कल तक जो मेरे साथ बड

आगे बढ़ना ही जिन्दगी है भाग -२
आगे बढ़ना ही जिन्दगी है भाग -२

बहुत समय बीत जाती, द

चर्चा में
चर्चा में

गैरों की चर्चा में

' बच्चे ' मासूम होते हैं
' बच्चे ' मासूम होते हैं

' अब छोड़ो भी यार ' ऐस

वो दिन गए
वो दिन गए

जाने कहां वो दिन गए

सात
सात

सात फेरों के सातों

मदद
मदद

मालिक-मालिक मेरी म

ता उम्र
ता उम्र

ता उम्र तुम प्यार क

अफसाना
अफसाना

काश हम तुमसे अपने द

पंछी
पंछी

आ पंछी तुझे उड़ना स

राम जी
राम जी

हे प्रभु राम जी नैय

सच्ची लेखिका
सच्ची लेखिका

एकबार एक लेखिका एक

जिसका जाता है उसी को पता चलता है
जिसका जाता है उसी को पता चलता है

रामदयाल बहुत गरीब

जिंदगी से समझौता
जिंदगी से समझौता

वैशाली एक समझदार औ

सब्जीवाली
सब्जीवाली

गर्मी के मौसम की चि

जिंदगी
जिंदगी

जिंदगी में हम जो चा

भूल के
भूल के

तुम्हें भूल के हम ज

फटी चप्पल
फटी चप्पल

अपराजिता घड़ी की अ

दिल किसी पे
दिल किसी पे

वैसे तो दिल किसी पे

उम्र गुजरी है
उम्र गुजरी है

उम्र गुजरी है मेरी

कहानी कुछ कहती है
कहानी कुछ कहती है

ज्योति और राजेश की

मेहंदी
मेहंदी

हाथों की मेहंदी कु

याद
याद

यादों के पन्नों को

अपमान
अपमान

सच बोलने वाले लोगो

पछतावा
पछतावा

रिया और अजीत की हाल

नाचीज़
नाचीज़

मुझ जैसे नाचीज़ को

आसूं की कदर
आसूं की कदर

आसूं की कदर ना तुझे

धोखा
धोखा

धोखा एक बार हो तो को

नवाजिश
नवाजिश

मोहब्बत हमने भी कि

अहमियत
अहमियत

हमारे पास जब कोई ची

लोगो की बातें
लोगो की बातें

लोग कहते हैं नशे मे

झूठा प्यार
झूठा प्यार

झूठा तेरा प्यार,झू

आए हो तो
आए हो तो

दुनियां में आए हो, त

दो बातें
दो बातें

हंस कर दो बातें क्य

रिश्ते में दूरी
रिश्ते में दूरी

कभी - कभी कोई सब्जी

सिलसिला
सिलसिला

तुम दीप में ज्योति

चुप
चुप

आसूं हमें पीना है

हमारी नजर
हमारी नजर

दूसरों के चीजों पर

कोई हमदम
कोई हमदम

कोई हमदम न मिला ऐसा

मां का प्यार
मां का प्यार

बच्चा काला हो या गौ

तुम मेरी प्रेरणा हो
तुम मेरी प्रेरणा हो

तुम मेरी प्रेरणा ह

क्या पैसा ही सबकुछ है
क्या पैसा ही सबकुछ है

मीनावती जो एक हाउस

जिंदगी को हम जीते हैं
जिंदगी को हम जीते हैं

जिंदगी को हम जैसे -

जमाना बहुत खराब हैं
जमाना बहुत खराब हैं

जमाना बहुत खराब है

आपसे ही
आपसे ही

जिंदगी मिली हमें आ

इंसानियत
इंसानियत

काले बादल आसमान मे

चांद
चांद

मिल गए आज हम ऐसे जै

इस कदर
इस कदर

ऐ जिंदगी तुझको मिल

तुलसी
तुलसी

हर घर की शोभा है तुल

मैं क्या गई
मैं क्या गई

मैं क्या गई आपको छो

कब
कब

जाओगे अब तो आओगे कब

मैं और मेरी खामोशी
मैं और मेरी खामोशी

मैं और मेरी खामोशी